Mp e uparjan registration form:किसान पंजीयन @mpeuparjan.nic.in 2020-21

MP e uparjan registration form | e uparjan 2020-21 (मध्य प्रदेश) योजना | mpeuparjan.nic.in

e uparjan 2020-21 योजना एक ऐसी योजना है जिसको मध्य प्रदेश राज्य के सभी किसानों को फायदा पहुंचाने के लिए सरकार ने आरंभ किया है। जानकारी दे दें कि इस योजना के तहत मध्य प्रदेश के वह सभी किसान जो रबी सीजन में समर्थन मूल्यों पर राज्य सरकार को गेहूं बेचना चाहते हैं | वो MP e uparjan registration form भर सकते है उन्हीं के लिए ई उपार्जन “e uparjan” पोर्टल रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया बनाई गई है।

यहां आपको जानकारी दे दें की रजिस्ट्रेशन करने के लिए प्रक्रिया 1 फरवरी 2020 से शुरू कर दी गई है जिसके अंतर्गत सभी इच्छुक लाभार्थी राज्य सरकार को अपना गेहूं समर्थन मूल्य पर बेच सकेंगे। कई बार ऐसा होता है कि किसान मजबूरी के कारण अपनी फसलों को न्यूनतम रेट से भी कम दामों में बेच देते हैं जिसके कारण उन्हें बहुत अधिक नुकसान हो जाता है। ई उपार्जन के माध्यम से वह अपनी फसलों को बिना किसी कठिनाई के उचित मूल्य पर बेच सकेंगे। यहां आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी किसान समर्थन मूल्य पर अपना अनाज बेचने की सुविधा प्राप्त करेंगे।

Table of Contents

e uparjan 2020-21 (मध्य प्रदेश) का मुख्य उद्देश्य

e uparjan 2020-21 (मध्य प्रदेश) का मुख्य उद्देश्य राज्य के सभी किसानों को लाभ पहुंचाना है। अकसर ऐसा होता है कि किसानों को अपनी फसल बेचने में बहुत अधिक परेशानी का सामना करना पड़ता है और कभी-कभी उन्हें समर्थन मूल्य से कम मूल्य पर उसको बेचना पड़ जाता है। इसी वजह से किसानों को अत्यधिक नुकसान भी होता है। इन्हीं सभी बातों को ध्यान में रखते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने ई उपार्जन पोर्टल की प्रक्रिया ऑनलाइन शुरू की है ताकि किसान घर बैठे ही इस योजना का लाभ उठा सकें।

एमपी ई उपार्जन 2020 -21 पोर्टल के लाभ

  • राज्य के सभी किसान घर बैठे बहुत आसानी के साथ ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।
  • यह योजना सभी किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए शुरू की गई है जिसका फायदा कोई भी किसान उठा सकता है।
  • वह किसान जो इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें अपने मोबाइल पर ई उपार्जन पोर्टल ऐप डाउनलोड करना होगा और फिर इस योजना के लिए रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। इसके लिए रजिस्ट्रेशन कंप्यूटर या लैपटॉप से भी किया जा सकता है।
  • पंजीकरण की ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से मध्य प्रदेश के किसानों को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • अपने घर से ही ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने से लोगों का काफी समय बचेगा।
  • सभी लाभार्थी जो इसके लिए अपना पंजीकरण करेंगे वह न्यूनतम समर्थन मूल्य पर राज्य सरकार को अपना गेहूं बेच सकेंगे।
  • Mp e uparjan 2020 21 ravi में किसानों को अधिक फायदा देने के लिए मध्य प्रदेश की सरकार ने गेहूं खरीद केंद्रों की संख्या में भी बढ़ोतरी कर दी है। ‌ऐसा करने का सबसे मुख्य उद्देश्य यही है कि किसानों को अपने गेहूं को बेचने में अत्यधिक परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

MP e uparjan registration form के लिए आवश्यक दस्तावेज

इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदनकर्ता के पास सभी आवश्यक दस्तावेज होना अत्यंत अनिवार्य है जो कि इस प्रकार से है-

  • आवेदनकर्ता की समग्र आईडी
  •  आवेदनकर्ता का आधार कार्ड
  • आवेदक की बैंक अकाउंट पासबुक
  • कैंडिडेट का चालू मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • ऋण पुस्तिका

MP e uparjan registration form के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको मध्य प्रदेश ई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। जैसे ही आप इस ऑफिशल वेबसाइट पर जाएंगे आपके सामने एक होम पेज खुल जाएगा।
MP e uparjan registration form:किसान पंजीयन @mpeuparjan.nic.in 2020-21
  • अब आपको होम पेज पर रवि 2020-21 का ऑप्शन मिलेगा। इस ऑप्शन पर क्लिक कर दीजिए। जैसे ही आप इस पर क्लिक करेंगे आपके सामने फिर से एक नया पेज खुलकर सामने आएगा।
MP e uparjan registration form:किसान पंजीयन @mpeuparjan.nic.in 2020-21
MP e uparjan registration form:किसान पंजीयन @mpeuparjan.nic.in 2020-21
  • सभी निर्देशों निर्देशों को ध्यान से पढ़ लीजिए। आप यहां पर अपना मोबाइल नंबर, किसान कोड या समग्र आईडी डाल दें और सर्च के बटन को दबा दें।
  • सर्च का बटन दबाते ही आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा जिसमें रजिस्ट्रेशन फॉर्म होगा। अब यहां पर पर अपना रजिस्ट्रेशन फॉर्म ठीक प्रकार से भरें। उसमें सभी विवरण जैसे भूमि के स्वामित्व का, खाते का और खरीद केंद्र आदि का विवरण दर्ज कर दें।
  • सभी जानकारी ठीक प्रकार से भरने के बाद सबमिट के बटन को दबा दें। सफलतापूर्वक रजिस्ट्रेशन होने के बाद आपको तुरंत ही आपकी पावती संख्या और आवेदन संख्या मिल जाएगी।
  • यहां आपको जो पावती संख्या मिली है उसी से ही आप अपने गेहूं को खरीद केंद्र पर लेकर जा सकते हैं और एक बेंच आप प्राप्त कर सकते हैं।
  • आप अपना e uparjan form pdf download  भी कर सकते हैं।

MP e uparjan registration form apply के लिए मोबाइल ऐप

Rabee uparjan की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया में इस बात का ध्यान रखा गया है कि सभी किसानों को पंजीकरण करते समय किसी भी प्रकार की समस्या ना हो। इसीलिए मध्य प्रदेश राज्य सरकार ने ई-उपार्जन किसान मोबाइल एप की शुरुआत की है जिसके माध्यम से वह लोग भी ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं जिनके पास कंप्यूटर या लैपटॉप की सुविधा उपलब्ध नहीं है। आजकल हर इंसान मोबाइल का प्रयोग अत्यधिक करता है क्योंकि उसका प्रयोग काफी आसान होता है और हर व्यक्ति के पास मोबाइल की सुविधा आजकल उपलब्ध होती है।  

  • सबसे पहले आप ई उपार्जन की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं। यहां पर आपको ऊपर वाले बॉक्स में e -uparjan kisan mobile app का लिंक दिखेगा।
  • इस लिंक को आपने क्लिक करना है फिर वहां पर आपसे आप की समग्र आईडी और मोबाइल नंबर डालने के लिए कहा जाएगा। जैसे ही आप यह डालेंगे तो आपको ऐप डाउनलोड करने का लिंक मिलेगा।
MP e uparjan registration form:किसान पंजीयन @mpeuparjan.nic.in 2020-21
  • इस पर क्लिक करके आप इस ऐप को अपने फोन में डाउनलोड कर लीजिए।
  • इस तरह आप इस ऐप को अपने फोन में इंस्टॉल करने के बाद बहुत आसानी के साथ अपनी रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।

mp e uparjan kisan code से अपने रजिस्ट्रेशन की जानकारी कैसे पता करें

सबसे पहले आपको जानकारी दे दें कि आप अपने रजिस्ट्रेशन के स्टेटस को 3 तरीकों से जान सकते हैं

1, मोबाइल नंबर

2, समग्र आईडी

3, किसान कोड या रजिस्ट्रेशन नंबर

मध्य प्रदेश समग्र आईडी ऑनलाइन डाउनलोड | sssm id

अगर आप किसान कोड से अपने ई उपार्जन रजिस्ट्रेशन की जानकारी जानना चाहते हैं तो वह आप निम्नलिखत तरीकों से जान सकते हैं-

  • अब यहां पर ई उपार्जन रजिस्ट्रेशन की जानकारी के लिए आपको तीन विकल्प मिलेंगे।
  • इसके बाद आप नेक्स्ट भाग में अपना mp e uparjan kisan code डाल दें।
  • इसके बाद अब अपना वेरिफिकेशन कोड एंटर करें और ऑनलाइन फॉर्म को जमा कर दें।
  • आपके सामने अब आपके रजिस्ट्रेशन की सारी स्थिति आ जाएगी। इस प्रकार आप सरलता के साथ अपने रजिस्ट्रेशन का स्टेटस ऑनलाइन देख सकते हैं।

e uparjan customer care and helpline number

अगर आपको खरीद केंद्रों पर किसी भी प्रकार की कोई समस्या या परेशानी का सामना करना पड़ रहा है या किसी प्रकार की शिकायत आपने दर्ज करानी है तो इसके लिए आप किसान हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। इस तरह से वहां पर मौजूद e uparjan customer care आपकी शिकायत सुनेंगे। आप किसी भी तरह की शिकायत के लिए 181 पर फोन कर सकते हैं।

FAQ

प्रश्न:मध्य प्रदेश e uparjan योजना क्या है और इस योजना को किसने शुरू किया है?

उत्तर:मध्य प्रदेश e uparjan योजना सभी किसानों के लिए शुरू गई स्कीम है जिसके अंतर्गत राज्य सरकार उनसे समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद करेगी। इस प्रकार किसानों को गेहूं बेचने में अत्यधिक परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

प्रश्न:मध्य प्रदेश e uparjan पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करते समय आवश्यक दिशा निर्देश क्या है?

उत्तर: मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करते समय आवश्यक दिशा निर्देश इस प्रकार हैं-

  • किसान अपने आधार कार्ड और समग्र आईडी के द्वारा रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।
  • अपना पंजीकरण करवाते समय अपने द्वारा दिए गए अकाउंट नंबर की अच्छी तरह से जांच कर लें।
  •  रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को पूरा करने के लिए आपके आधार कार्ड से आपका मोबाइल नंबर जुड़ा हुआ होना चाहिए।
  • Mp e uparjan पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने के बाद आपको जो रसीद मिलेगी वह अपने पास सुरक्षित रखनी होगी।
  •  अगर आपकी समग्र आईडी का रखरखाव नहीं किया जाता है तो फिर आप रजिस्ट्रेशन को ऑनलाइन पूरा नहीं कर सकते।

प्रश्न:E karshak पोर्टल पर पंजीकरण करवाने के बाद कौन-कौन सी फसलों को बेचा जा सकता है?

उत्तर: ई पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद किसान गेहूं, कपास, धान प्याज, रबी, खरीफ इत्यादि फसलों को बेच सकते हैं।

प्रश्न:क्या ई उपार्जन पोर्टल पर बिना रजिस्ट्रेशन के फसल बेची जा सकती है?

उत्तर: नहीं, यह संभव नहीं है। इस पोर्टल पर बिना रजिस्ट्रेशन के किसान द्वारा फसलों को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर बेचा नहीं जा सकता।

प्रश्न:वह किसान जिन्होंने पिछले साल पंजीकरण करवाया था क्या उन्हें इस वर्ष फिर से पंजीकरण करवाना होगा?

उत्तर: हां, जिन किसानों ने पिछले साल अपना पंजीकरण करवाया था उनको इस साल फिर से मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल पर पंजीकरण करवाना पड़ेगा।

Leave a Comment